Aarti

Adinath Bhagwan ki Aarti | आदिनाथ भगवान की आरती

आदिनाथ भगवान आरती | Adinath Bhagwan ki Aarti  आरती उतारूँ आदिनाथ भगवान की माता मरुदेवि पिता नाभिराय लाल की रोम रोम पुलकित होता देख मूरत आपकी आरती हो बाबा, आरती हो, प्रभुजी हमसब उतारें थारी आरती तुम धर्म धुरन्धर धारी, तुम ऋषभ प्रभु अवतारी तुम तीन लोक के स्वामी, तुम गुण अनंत सुखकारी इस युग [&hell...

Aarti

Aarti Jai Ambe Gauri | आरती जय अम्बे गौरी

आरती जय अम्बे गौरी जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी।तुमको निशिदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी॥ओम जय अम्बे गौरी मांग सिन्दूर विराजत, टीको मृगमद को।उज्जवल से दो‌उ नैना, चन्द्रवदन नीको॥ओम जय अम्बे गौरी कनक समान कलेवर, रक्ताम्बर राजै।रक्तपुष्प गल माला, कण्ठन पर साजै॥ओम जय अम्बे गौरी केहरि वाहन राजत, खड्...

Aarti

Shri Bhagwat Bhagwan Aarti | भागवत आरती | Hindi | English

भागवत आरती श्री भगवत भगवान की है आरती,पापियों को पाप से है तारती। ये अमर ग्रन्थ ये मुक्ति पन्थ,ये पंचम वेद निराला,नव ज्योति जलाने वाला।हरि नाम यही हरि धाम यही,यही जग मंगल की आरतीपापियों को पाप से है तारती॥॥ श्री भगवत भगवान की है आरती…॥ ये शान्ति गीत पावन पुनीत,पापों को मिटाने वाला,हरि दरश दिखाने [&h...

Aarti

Dattachi Aarti | दत्ताची आरती | Hindi | English

दत्ताची आरती त्रिगुणात्मक त्रैमूर्ती दत्त हा जाणा।त्रिगुणी अवतार त्रैलोक्य राणा ।नेती नेती शब्द न ये अनुमाना॥सुरवर मुनिजन योगी समाधी न ये ध्याना ॥ १ ॥ जय देव जय देव जय श्री गुरुद्त्ता ।आरती ओवाळिता हरली भवचिंता ॥ धृ ॥ सबाह्य अभ्यंतरी तू एक द्त्त ।अभाग्यासी कैची कळेल हि मात ॥पराही परतली तेथे कैचा हेत...

Aarti

Giriraj Ji Ki Aarti | श्री गिरिराज जी की आरती | Hindi | English

श्री गिरिराज जी की आरती ॐ जय जय जय श्री गिरिराज, जय जय श्री गिरिराजसंकट में तुम रखो, निज भक्तन की लाजजय जय जय श्री गिरिराज, जय जय श्री गिरिराज इंद्रादिक सब देवा तुम्हरो ध्यान धरे।ऋषि मुनि जन यश गामें, ते भवसिंधु तरे॥ॐ जय जय जय श्री गिरिराज सुन्दर रूप तुम्हरौ श्याम सिला सोहें।वन उपवन […]

Aarti

श्री गोवर्धन आरती | Shri Govardhan Aarti

आरती श्री गोवर्धन महाराज की श्री गोवर्धन महाराज, ओ महाराज,तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ। तोपे पान चढ़े तोपे फूल चढ़े,तोपे चढ़े दूध की धार।तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ। श्री गोवर्धन महाराज, ओ महाराज,तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ। तेरी सात कोस की परिकम्मा,और चकलेश्वर विश्रामतेरे माथे मुकुट विराज रहेओ। श्री गो...

Aarti

Hanuman Lala ki Aarti | श्री हनुमान लला की आरती

श्री हनुमान लला की आरती आरती कीजै हनुमान लला की,दुष्टदलन रघुनाथ कला की। जाके बल से गिरिवर कांपे,रोग दोष जाके निकट न झांपै। अंजनिपुत्र महा बलदायी,संतन के प्रभु सदा सहाई। आरती कीजै हनुमान लला की दे बीरा रघुनाथ पठाये,लंका जारि सिया सुधि लाये। लंका-सो कोट समुद्र-सी खाई,जात पवनसुत बार न लाई। आरती कीजै हन...

Aarti

Ganpatichi Aarti in Marathi | Sukh Karta Dukh Harta

Ganpati Aarti Marathi |गणपति आरती ।। श्री गणेशाय नमः ।। सुखकर्ता दुखहर्ता वार्ता विघ्नाची |नुरवी पूर्वी प्रेम कृपा जयाची |सर्वांगी सुंदर उटी शेंदुराची |कंठी झळके माळ मुक्ताफळाची || १ || जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती |दर्शनमात्रे मनकामना पुरती ||रत्नखचित फरा तूज गौरीकुमरा |चंदनाची उटी कुंकुमकेशरा |हिरे...

Aarti

Durga Aarti -Jag Janani Jai | दुर्गा आरती

माँ दुर्गा आरती जगजननी जय! जय! माँ! जगजननी जय! जय !भयहारिणी, भवतारिणी, भवभामिनि जय जय। जगजननी जय! जय! माँ! जगजननी जय! जय ! तू ही सत्-चित्-सुखमय, शुद्ध ब्रह्मरूपा।सत्य सनातन, सुन्दर पर-शिव सुर-भूपा॥ जगजननी जय! जय! माँ! जगजननी जय! जय ! आदि अनादि, अनामय, अविचल, अविनाशी।अमल, अनन्त, अगोचर, अज आनन्दराशी॥ ...

Aarti

Shivratri Aarti in Hindi | शिवजी की आरती

शिवजी की आरती ॐ जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा।ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा॥ॐ जय शिव ओंकारा॥ एकानन चतुरानन पञ्चानन राजे।हंसासन गरूड़ासन वृषवाहन साजे॥ॐ जय शिव ओंकारा॥ दो भुज चार चतुर्भुज दसभुज अति सोहे।त्रिगुण रूप निरखते त्रिभुवन जन मोहे॥ॐ जय शिव ओंकारा॥ अक्षमाला वनमाला मुण्डमाला धार...

Aarti

Ramdevji Aarti | श्री रामदेव जी की आरती | Hindi | English

श्री रामदेव जी की आरती पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।घर अजमल अवतार लियोलाछां सुगणा करे थारी आरती।हरजी भाटी चंवर ढोले।पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया। गंगा जमुना बहे सरस्वती।रामदेव बाबो स्नान करे।लाछां सुगणा करे थारी आरती।हरजी भाटी चंवर ढोले।पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया। घिरत मिठाई ब...

Aarti

Gomata Aarti in Hindi | श्री गो माता जी की आरती

गो माता जी की आरती आरती श्री गैया मैया कीआरती हरनि विश्वधैया की || अर्थकाम सद्धर्म प्रदायिनी,अविचल अमल मुक्तिपद्दायिनी || सुर मानव सौभाग्याविधायिनी,प्यारी पूज्य नन्द छैया की || अखिल विश्व प्रतिपालिनी माता,मधुर अमिय दुग्धान्न प्रब्दाता || रोग शोक संकट परित्राता,भवसागर हित दृढ़ नैया की || आयु ओज आरोग्...

Aarti

Maa Kali Ki Aarti | काली माता की आरती | Hindi | English

काली माता की आरती अम्बे तू है जगदम्बे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली |तेरे ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती || तेरे भक्त जनों पे माता, भीर पड़ी है भारी |दानव दल पर टूट पडो माँ, करके सिंह सवारी || सौ सौ सिंहों से तु बलशाली, दस भुजाओं वाली |दुखिंयों […]

Aarti

Laxmi Aarti Lyrics | लक्ष्मी माता की आरती

Laxmi Aarti Lyrics in Hindiॐ जय लक्ष्मी माता, तुमको निस दिन सेवत,मैया जी को निस दिन सेवतहर विष्णु विधाता || ॐ जय || उमा रमा ब्रम्हाणी, तुम ही जग माताओ मैया तुम ही जग मातासूर्य चन्द्र माँ ध्यावत, नारद ऋषि गाता || ॐ जय || दुर्गा रूप निरंजनी, सुख सम्पति दाताओ मैया सुख सम्पति दाताजो […]

Aarti

Jagdamba Ki Aarti | आरती जग्दाम्बजी की | Hindi | English

Jagdamba Ki Aarti in Hindi !! आरती कीजे शैल सुता की जग्दाम्बजी की,स्नेह सुधा सुख सुन्दर लीजै,जिनके नाम लेट दृग भीजै,ऐसी वह माता वसुधा की,आरती कीजे शैल सुता की जग्दाम्बजी की, !! !! पाप विनाशिनी कलि मॉल हारिणी,दयामयी, भवसागर, तारिणी,शस्त्र, धारिणी, शैल विहारिणी,बुधिराशी गणपति माता की,आरती कीजे शैल सुत...

Aarti

Jankinath Ji Ki Aarti | जानकीनाथ जी की आरती | Hindi | English

Jankinath Ji Ki Aarti in Hindi जय जानकीनाथा, जय श्रीरघुनाथादोउ कर जोरें बिनवौं प्रभु ! सुनिये बाता । तुम रघुनाथ हमारे प्रान, पिता मातातुम ही सज्जन – संगी भक्ति – मुक्ति–दाता ।।जय जानकीनाथा, जय श्रीरघुनाथा लख चौरासी काटो मेटो यम-त्रासानिसदिन प्रभु मोहि रखिये अपने ही पासा ।।जय जानकीनाथा, जय श्रीरघुनाथ...

Aarti

Kamakhya Aarti | कामाक्षा माँ की आरती | Hindi | English

Kamakhya Aarti in Hindi आरती कामाक्षा देवी की ।जगत् उधारक सुर सेवी की ॥आरती कामाक्षा देवी की । गावत वेद पुरान कहानी ।योनिरुप तुम हो महारानी ॥सुर ब्रह्मादिक आदि बखानी ।लहे दरस सब सुख लेवी की ॥आरती कामाक्षा देवी की । दक्ष सुता जगदम्ब भवानी ।सदा शंभु अर्धंग विराजिनी ।सकल जगत् को तारन करनी ।जै […...

Aarti

Aarti Kunj Bihari Ki | आरती कुंजबिहारी की | Hindi | English

आरती कुंजबिहारी की,श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥आरती कुंजबिहारी की,श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥ गले में बैजंती माला,बजावै मुरली मधुर बाला।श्रवण में कुण्डल झलकाला,नंद के आनंद नंदलाला।गगन सम अंग कांति काली,राधिका चमक रही आली।लतन में ठाढ़े बनमालीभ्रमर सी अलक, कस्तूरी तिलक, चंद्र सी झलकललित छवि श्यामा प्...

Aarti

महाराजा अग्रसेन आरती | Agrasen Maharaj Ki Aarti

Agrasen Maharaj Ki Aarti in Hindi जय श्री अग्र हरे, स्वामी जय श्री अग्र हरे।कोटि कोटि नत मस्तक, सादर नमन करें।।जय श्री अग्र हरे… आश्विन शुक्ल एकं, नृप वल्लभ जय।अग्र वंश संस्थापक, नागवंश ब्याहे।।जय श्री अग्र हरे… केसरिया ध्वज फहरे, छात्र चंवर धारे।झांझ, नफीरी नौबत बाजत तब द्वारे।।जय श्री अग्र हरे… अग...

Aarti

महावीर स्वामी की आरती – जय महावीर प्रभो | Mahavir Swami Aarti

महावीर स्वामी की आरती जय महावीर प्रभो, स्वामी जय महावीर प्रभो।कुंडलपुर अवतारी, त्रिशलानंद विभो॥ ॥ ॐ जय…..॥सिद्धारथ घर जन्मे, वैभव था भारी, स्वामी वैभव था भारी।बाल ब्रह्मचारी व्रत पाल्यौ तपधारी ॥ ॐ जय…..॥ आतम ज्ञान विरागी, सम दृष्टि धारी।माया मोह विनाशक, ज्ञान ज्योति जारी ॥ ॐ जय…..॥ जग में पाठ अहिंसा...